आदिवासी सांसद रामविचार नेताम व सरोज पांडेय का मंत्रिमंडल में शामिल होने की प्रबल संभावना

Screenshot_5-2.jpg

रायपुर। नरेंद्र मोदी आज राष्ट्रपति भवन परिसर में दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे. 2014 की तरह ही इस बार भी प्रधानमंत्री मोदी और उनके मंत्रिमंडल का शपथग्रहण मेगा इवेंट होने वाला है. कार्यक्रम में शामिल होने के लिए 6000 मेहमानों को न्यौता भेजा गया है. बाहरी मेहमानों में बांग्लादेश, श्रीलंका, म्यांमार, थाईलैंड, नेपाल और भूटान के प्रमुख शामिल होंगे. इसके अलावा सांसदों और सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को न्यौता दिया गया है.
मोदी सरकार के मंत्रिमंडल पर अभी भी मंथन जारी है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह सुबह-सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर पहुंचे हैं. पिछले दो दिनों से लगातार दोनों नेताओं के बीच मंथन चल रहा है.

केंद्र में मोदी सरकार में जगह पाने के लिए छत्तीसगढ़ के सांसदों ने बुधवार को फोन का इंतजार किया, लेकिन देर रात तक किसी भी सांसद को बुलावा नहीं आया। प्रदेश में भाजपा के नौ में से आठ सांसद पहली बार चुनाव जीतकर दिल्ली पहुंचे हैं। इस बीच, राजनीतिक गलियारे में यह चर्चा तेज हो गई कि भाजपा की राष्ट्रीय महामंत्री और राज्यसभा सांसद सरोज पांडे मोदी मंत्रिमंडल में छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व कर सकती हैं।

हालांकि देर रात तक सरोज को भी मंत्रिमंडल में शामिल होने के लिए कोई फोन नहीं आया था। सरोज दिल्ली में ही डेरा डाले हुए हैं। वे बुधवार शाम को आला नेताओं के साथ हुई बैठक में भी शामिल थीं।

भाजपा के उच्च पदस्थ सूत्रों की मानें तो छत्तीसगढ़ से अगर एक मंत्री बनाया जाएगा, तो सरोज पांडेय की प्रबल संभावना है। अगर दो मंत्री बनाए जाएंगे तो सरोज के साथ एक आदिवासी सांसद को मौका मिल सकता है।

प्रदेश में दो आदिवासी सांसद सरगुजा से रेणुका सिंह और कांकेर से मोहन मंडावी चुनकर संसद पहुंचे हैं। इसके साथ ही राज्यसभा में रामविचार नेताम हैं। चर्चा है कि वरिष्ठता और अनुभव के आधार पर आदिवासी नेताओं में रामविचार की दावेदारी सबसे आगे हैं।

हालांकि अंतिम फैसला प्रधानमंत्री मोदी को करना है, ऐसे में जिस तरह से सभी सांसदों का टिकट काट दिया गया, वैसे ही किसी भी सांसद को मंत्री भी बना सकते हैं। भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह को मोदी मंत्रिमंडल में जगह मिल जाए, तो कोई आश्चर्य नहीं है।

Share this Post On:
  
scroll to top