भाजपा समर्पित सर्वाधिक जनपद सदस्य के बावजूद कुसमी जनपद पंचायत में कांग्रेस का कब्जा हुमंत अध्यक्ष व हरीश बने उपाध्यक्ष

IMG-20200214-WA0016.jpg

अम्बिकेश गुप्ता/कुसमी। जनपद पंचायत कुसमी में भारी गहमा – गहमी के बीच गुरुवार को हुए मतदान में जनपद पंचायत अध्यक्ष व उपाध्यक्ष दोनो पद में कांग्रेस का कब्जा हो गया। कुसमी जनपद पंचायत क्षेत्र में भाजपा समर्थित सर्वाधिक जनपद सदस्य चुन कर आने के बाद भी कांग्रेस पार्टी के जनपद अध्यक्ष व उपाध्यक्ष बनने से चर्चा सरेआम होना शुरू हो चुका हैं।
अध्यक्ष पद पर विधायक चिंतामणि महाराज के भतीजे हुमन्त सिंह को 14 मत मिले व उपाध्यक्ष पद पर एक के अलावा अन्य फार्म नही भरे जाने से जनपद सदस्य हरीश मिश्रा निर्विरोध निर्वाचित हो गए। इस जीत के बाद कांग्रेसियो में खुसी की लहर हैं. जीत की जश्न मनाते हुवे नवनिर्वाचित अध्यक्ष उपाध्यक्ष सहित क्षेत्रीय विधायक चिंतामणी महाराज व नगर पंचायत उपाध्यक्ष जावेद रहमानी सहित कार्यकर्तायो ने नगर में रैली निकाल खुशी का इजहार किया. इस दौरान कार्यकर्ताओ ने अतिशबाजी कर एक दूसरे को मिठाई बांटा।
गुरुवार को निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जनपद अध्यक्ष व उपाध्यक्ष का चुनाव होना था यहाँ भी कांग्रेस द्वारा अध्यक्ष व उपाध्यक्ष दोनो पद पर कब्जा करने के लिए पूरी तैयारी की गई थी। जनपद कार्यालय के सभा भवन में चुनाव होना था दिन के करीब 12 बजे सामरी विधायक चिंतामणि महाराज के साथ के साथ कुल 14 जनपद सदस्य वहाँ तक पहुँचे और सभी जनपद सदस्य कक्ष में पहुँच गए। यहाँ काग्रेस के तरफ से अध्यक्ष पद के लिए हुमन्त सिंह ने नामनिर्देशन पत्र भरा जबकी जोगी कांग्रेस समर्थित देवधन भगत द्वारा भी नामनिर्देशन पत्र भरा गया उपाध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस के तरफ से हरीश मिश्रा ने नामांकन दाखिल किया निर्धारित समय तक उनके खिलाफ किसी ने नामांकन नही भरा जिससे वे निर्विरोध निर्वाचित हुए। वही अध्यक्ष पद के लिए हुए मतदान में देवधन भगत को 5 मत प्राप्त हुए जबकी कांग्रेस के हुमन्त सिंह ने 14 मत प्राप्त कर जनपद अध्यक्ष पद पर निर्वाचित हुए। यहाँ भाजपा द्वारा अपना प्रत्याशी नही उतारा गया इससे मैदान में उतरने से पहले ही यहाँ भाजपा ने हार स्वीकार कर लिया था इस चुनाव से ज्यादातर भाजपा नेताओं ने दूरी बनाकर रखा. चुनावी प्रक्रिया को रिटर्निंग अधिकारी तहसीलदार इरशाद अहमद द्वारा पूरा कराया गया।
पूर्व से हरीश मिश्रा के उपाध्यक्ष बनने की थी चर्चा – जनपद पंचायत कुसमी के कुल 19 जनपद सदस्य निर्वाचित हुए थे. जनपद सदस्य क्षेत्र क्रमांक 11 में सबकी निगाहें टिकी हुई थी. यहाँ से कड़ी मुकाबले में ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष हरीश मिश्रा निर्वाचित हुए थे जिसके बाद से ही उनका जनपद उपाध्यक्ष बनना लगभग तय माना जा रहा था। भाजपा मण्डल ने पूरी ताकत लगाकर चुनाव प्रकार का ज़्यादा समय क्षेत्र क्रमांक 11 में दिया।
सरगुजा राजमाता के निधन से शांतिपूर्ण रैली – कांग्रेसियो ने जीत का जश्न मनाने की पूरी तैयारी कर रखी थी लेकिन सरगुजा राज माता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव के निधन से शोक के कारण शांतिपूर्ण ढंग से खुले जीप में विधायक सहित नवनिर्वाचित अध्यक्ष उपाध्यक्ष व अन्य कार्यकर्ताओ द्वारा नगर में रैली निकली गई। इस दौरान नगर पंचायत अध्यक्ष गोबर्धन राम, उपाध्यक्ष जावेद रहमानी, छग जनता कांग्रेस पदाधिकारी शिवचरण पांडेय, नवनिर्वाचित जनपद सदस्य खसरू राम, मुजस्सम नजर, राशिद आलम, विजय गुप्ता, ललित निकुंज, छतरपति, सैफअली, मोदस्सीर सहित अन्य उपस्थित रहे.

चुनाव प्रक्रिया के बीच नही दिखे भाजपा मण्डल अध्यक्ष सहित वरिष्ठ भाजपा मंडल पदाधिकारी, बना चर्चा का विषय ?
जनपद पंचायत चुनाव के बाद भाजपा समर्थित ज्यादा जनपद सदस्य चुने जाने के बाद भाजपा पार्टी के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष बनने की चर्चा थीं लेकिन सत्ता का सुख पाने व भाजपा मंडल अध्यक्ष के निष्क्रियता के कारण ज्यादा तर नवनिर्वाचित जनपद सदस्य कांग्रेस समर्थित हो गए. भाजपा मंडल अध्यक्ष संजय जयसवाल को बनाये जाने के बाद से ही भाजपा में गुटबाजी चरमसीमा पर हैं. नगर पंचायत व जनपद पंचायत दोनो जगहों पर कांग्रेस का कब्जा होना भाजपा मंडल अध्यक्ष पर कई सवाल खड़ा कर रहा हैं। जनपद पंचायत कुसमी अध्यक्ष, उपाध्यक्ष चुनाव के दरमियान मंडल अध्यक्ष संजय जयसवाल सहित मंडल के कई पदाधिकारी जनपद पंचायत में चल रहें चुनाव प्रक्रिया के बीच एक बार भी नजर नही आये. यहाँ तक कि प्रवेक्क्षक तक नगर नही आये. जिससे भाजपा के कई कार्यकर्ताओं में तरह – तरह का सवाल हैं. भाजपा से इस दौरान पूर्व जनपद उपाध्यक्ष वरिष्ठ भाजपा नेता जन्मजय सिंह, राकेश भारती, पुष्पराज सिंह ,अर्जुन यादव, रामानंद यादव, भोला यादव, प्रदीप गुप्ता, शिव शंकर शुक्ला, रामप्रीत कुशवाहा ,रमेश गुप्ता सहित भाजपा के कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Share this Post On:
scroll to top