मृत व्यक्ति के नाम पर 9 लाख की फ़र्जी लोन सेंशन करने वाला उप प्रबंधक गया जेल…

1578479016830.jpg

अनिल सोनी

बलरामपुर। बलरामपुर जिले के राजपुर भारतीय स्टेट बैंक के फील्ड ऑफिसर ने मृत व्यक्ति के नाम पर फर्जी तरीके से 9 लाख 10 हजार रुपए की लोन सेंशन कराने के आरोप में पुलिस ने  स्टेट बैंक के फील्ड ऑफिसर को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया न्यायालय से जेल भेजा गया।

पुलिस ने बताया की ग्राम पकडांडी पुलिस चौकी डवरा निवासी रामगुलाम गुप्ता पिता रामप्रसाद गुप्ता की मृत्यु 15 अगस्त 2019 को हो गई थी।मृत के पुत्र शैलेश गुप्ता ने अपने मृत पिता का आधार कार्ड और परिचय पत्र के साथ ही सारे फर्जी आईडी तैयार किए थे और बैंक के फील्ड ऑफिसर 35 वर्षीय अमोल गुलशन कुजूर पिता सेमेस्टर कुजुर ने उसकी मदद की थी और सारे दस्तावेजों की अनदेखी कर केसीसी 3 लाख 50 हजार, ट्रैक्टर लोन 5 लाख, होम लोन 43 हजार व गोल्ड लोन 17 हजार रुपए कुल 9 लाख 10 हजार रुपए की लोन को सेंशन कर दिया था। मृत रामगुलाम गुप्ता के दूसरे पुत्र संतोष गुप्ता को जब पता चला तो बैंक पहुचकर फील्ड ऑफिसर अमोल गुलशन कुजर से पूछताछ किया तो टालमटोल करने लगा उनके बाद पुलिस थाना पहुचकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर अपने उच्चधिकारी पुलिस अधीक्षक टीआर कोशिमा को जानकारी दिया उच्चधिकारी के मार्गदर्शन में पुलिस जांच में जुटी थी।पुलिस ने जांच के उपरांत 15 अगस्त 2019 को शैलेश गुप्ता को गिरफ्तार कर धारा 419,420,467,468,471,201 पंजीबद्ध कर जेल भेज दिया था। उनके बाद फील्ड ऑफिसर अमोल गुलशन कुजुर का स्थांतरण बलरामपुर हो गया था। सह आरोपी बैंक उप प्रबंधक अमोल गुलशन कुजूर के खिलाफ पुलिस ने साक्ष्य एकत्रित कर रही थी। मामले में सारे साक्ष्य जुटाने के बाद पुलिस ने बुधबार को  बैंक के उप प्रबंधक को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया न्यायालय से जेल भेजा गया।

कार्यवाही के दौरान- पुलिस निरीक्षक फरदीनन्द कुजुर, उप निरीक्षक सतीश कुमार सोनवानी, सहायक उप निरीक्षक अर्जुन यादव, नरेंद्र कश्यप आदि सक्रिय थे।

Share this Post On:
 
scroll to top