मौसम बदलने से चिंतित हुए जिले के किसान.. बारिश से बचने प्रशासन ने कसी कमर..

PicsArt_12-13-07.00.02.jpg

रामानुजगंज-विकाश केसरी- आज मौसम में आए बदलाव के कारण हो रही बूंदाबांदी से जिले में धान खरीदी को लेकर प्रशासन एवं किसान भी चिंतित है जिले में अब तक 78673 क्विंटल धान की खरीदी हुई है वहीं 10428 क्विंटल धान का उठाव हुआ है। मौसम में आए बदलाव के कारण हो रही बूंदाबांदी के बीच सहकारी समितियों के द्वारा समितियों में आए धान को बचाने के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं की गई हैं वहीं जिला प्रशासन भी लगातार निगरानी इस पर बनाए हुए हैं।

गौरतलब है कि बलरामपुर रामानुजगंज जिले में 28 सहकारी समितियों के द्वारा धान की खरीदी की जा रही है अधिकांश सहकारी समितियों के द्वारा खुले आसमान के नीचे खरीदी की जाती है ऐसे में मौसम में आए बदलाव के बाद हो रही बूंदाबांदी से प्रशासन के साथ-साथ किसान भी चिंतित है। सहकारी समितियों ने दावा किया है कि बारिश से धान का बचाव करने के लिए पर्याप्त मात्रा में व्यवस्थाएं की गई है। जिले में अब तक 78673 क्विंटल धान की खरीदी हुई है वहीं 10428 क्विंटल धान का उठाव हुआ है मौसम में आए बदलाव को देखते हुए उठाव की प्रक्रिया तेज की।

अधिकांश सहकारी समितियों के द्वारा खुले आसमान के नीचे की जाती है धान की खरीदी- जिले में अधिकांश सहकारी समितियों के द्वारा खुले आसमान के नीचे धान की खरीदी की जाती है ऐसे में मौसम में आए बदलाव के बाद हो रही बूंदाबांदी से किसानों के साथ-साथ समितियों में रखें धान केविन ने को लेकर प्रशासन चिंतित है हालांकि की समितियों के द्वारा धान की सुरक्षा के लिए प्राप्त व्यवस्थाएं की गई है।

किसान भी है चिंतित- मौसम में आए बदलाव के कारण हो रही बूंदाबांदी से अधिकांश किसानों के खलिहान में धान रखे हुए हैं ऐसे किसान अपने धान के भीगने की आशंका से चिंतित है

इस संबंध में जिला विपणन अधिकारी अरुण विश्वकर्मा ने कहा है कि 24 राइस मिलों से मिलिंग के लिए अनुबंध किया गया है धान का उठाव प्रारंभ कर दिया गया है अब तक 10428 क्विंटल धान का उठाव हो चुका है। वहीं धान को पानी से भीगने से बचाने लिए पर्याप्त मात्रा में व्यवस्थाएं की गई है।

Share this Post On:
  
scroll to top