कांग्रेसी सत्ता के नशे में मदमस्त हो गये हैं – अनिल सिंह मेजर

01-1.jpg

अंबिकापुर – एक दिन पूर्व कांग्रेसी नेताओं व कार्यकर्ताओं द्वारा वार्ड क्रमांक-38 जाकिर हुसैन वार्ड में भाजपा प्रत्याशी सतपाल सिंह अरोरा का छल, बल व षडयंत्र पूर्वक गुण्डा गर्दी के साथ नाम वापस कराये जाने की घटना के विरोध में भारतीय जनता पार्टी मण्डल अम्बिकापुर द्वारा नगरीय निकाय चुनाव संभागीय समन्वय समिति संयोजक कृष्णकुमार राय, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष दीपक पटेल के आतिथ्य व अनुराग सिंह देव, की उपस्थिति में महामाया चौक पर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन का आयोजन किया गया।
कार्यक्रम के अतिथि नगरीय निकाय चुनाव संभागीय समन्वय समिति संयोजक कृष्णकुमार राय ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने भाजपा पार्षद प्रत्याशी सतपाल सिहं अरोरा पर नाम वापसी के लिए दबाव बनाकर अपने घृणित चाल चरित्र और चेहरे को जनता के सामने उजागर कर दिया है अब आम जनता इस चुनाव में कांग्रेस पार्टी का भविष्य तय करेगी। उन्होने कहा कि गुण्डा गर्दी व बलपूर्वक प्रत्याशियों का नाम वापसी कराना कांग्रेस की पूरानी हरकत है। अब यह स्पष्ट हो गया है कि भूपेश सरकार ने महापौर और अध्यक्ष पद का प्रत्यक्ष चुनाव क्यों नही कराया।
भाजपा प्रदेश मंत्री अनुराग सिंह देव ने कहा कि सन् 2000 से पूर्व इसी तरीके का गुण्डा राज सरगुजा अम्बिकापुर में व्याप्त था जो कि कांग्रेस द्वारा प्रायोजित रहता था मध्यप्रदेश के जमाने में जब प्रदेश भर के अपराधों का रिकाॅर्ड बनाया जाता था तो पूरे मध्यप्रदेश में जबलपुर एक नम्बर तो अम्बिकापुर का नाम दूसरे स्थान पर आता था विशेष बात तो यह है कि जाकिर हुसैन वार्ड के वर्तमान कांग्रेस प्रत्याशी का निर्दलीय प्रत्याशी के साथ कौमी एकता के लिए समझौता हो जाता है फिर निर्विरोध निर्वाचित होने के लिए दूसरे कौम के भाजपा प्रत्याशी सतपाल सिंह अरोरा का नाम वापस कराने का बलपूर्वक व गुण्डा गर्दी के साथ षड़यंत्र रचा जाता है मैं इसे कौमी एकता नही कौमी गुण्डा गर्दी का नाम देता हूॅ।
भाजपा जिलाध्यक्ष अखिलेश सोनी ने कहा कि कांग्रेस द्वारा पूराने इतिहास को दोहराने की फिर से साजिश हुई जिसे भाजपा के जाबांज कार्यकर्ताओं ने पूरी मुस्तैदी के साथ साजिश को असफल कर दिया मै उन सभी कार्यकर्ताओं को हृदय से बधाई देता हूॅ उन्होने कहा कि यह आम चर्चा का विषय है कि यदि कांग्रेस की सरकार बनी तो पुनः गुण्डा गर्दी का राज आ जायेगा हम लोकतांत्रिक परंपराओं का सम्मान करते हैं हमारा मानना है कि इस घटना के लिए कांग्रेस के नेता व प्रदेश सरकार के मंत्री टी0एस0 सिंह देव जिम्मेदार है मंत्री जी आपको जवाब देना होगा कि आप भाजपा के उम्मीदवार का फार्म वापस लेन का षडयंत्र क्यों रचते हो आपको जवाब देना होगा कि कलेक्ट्रेड के भीतर आपके कार्यकर्ताओं ने क्यों गुण्डा गर्दी की।
वरिष्ठ भाजपा नेता अनिल सिंह मेजर ने कहा कि हाथी को शराब पीला दी जाए तो हाथी मदमस्त हो जाता है उसी प्रकार कांग्रेसी सत्ता के आते ही सत्ता के नशे में मदमस्त हो गये हैं उन्हें नियम, कानून व संबंधो की तनिक भी परवाह नहीं रह गई है इस तरह अगर कोई लोकतंत्र को घायल करने की कोशिश करेगा तो वह समाप्त हो जायेगा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को सचेत करता हूॅ कि शांति प्रेम व अनुशासन से चुनाव लडें वरना भाजपा के कार्यकर्ता भी कमजोर नही है।
इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी मोर्चा व प्रकोष्ठ जिला सरगुजा के प्रदेश जिला मण्डल, बूथ स्तरीय पदाधिकारी कार्यकर्ता, सभी 48 वार्डों के भाजपा प्रत्याशी व नगरवासी उपस्थित रहे।

Share this Post On:
  
scroll to top