अवैध संबंध बना मौत का कारण, पत्नी ने योजनाबद्ध तरीके से पति को गला घोट कर की थी हत्या

586
ARTICLE TOP AD

अंबिकापुर. बलरामपुर जिले के सनावल थाने में बिराजो मरकाम ने अपने पति रामबरन मरकाम के साथ में ग्राम सागो बांध जिगना टोला में 15 जुलाई 2021 को मारपीट हुआ था। जिसका ईलाज सनावल अस्पताल में करवा कर घर लाई थी। जो 17 जुलाई की सुबह करीब मेरे पति की मौत हो गई। पुलिस द्वारा मर्ग जांच दौरान मृतक रामबरन मरकाम के शव का पोस्टमार्टम कराया गया व मृत्यु संदेहास्पद होने से डॉक्टर से पोस्टमार्टम रिपोर्ट मांगा गया। डॉक्टर के अनुसार अपने रिपोर्ट में गला घोटने से मृत्यु होना उल्लेख किया गया। इसके पश्चात मूल घटना स्थल ग्राम तालकेश्वरपुर दुकूपाथर थाना सनावल का होना पाये जाने से धारा 302 कायम कर विवेचना कार्यवाही में लिया गया। थाना प्रभारी सनावल अमित सिंह बघेल अपने स्टाफ के साथ संदेही आरोपिया को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ किया गया और महिला अपना जुर्म कबूल कर ली। पुलिस ने महिला के खिलाफ कार्रवाई कर जेल दाखिल कर दिया। इस कार्यवाही में सनावल थाना प्रभारी अमित सिंह बघेल, सहायक उपनिरीक्षक कृपा निधान पाण्डेय, प्रधान आरक्षक विकास कुजूर, आरक्षक प्रकाश तिर्की शामिल रहे।

देवर से था अवैध संबंध
आरोपिया बिराजो मरकाम का अपने देवर के साथ में पिछले 2 साल से अवैध शरीरिक संबंध था इसी में देवर का शादी कर दिये देवर के शादी के बाद भी देवर भाभी का अवैध शारीरिक संबंध जारी रहा। 12 जुलाई 2021 को देवर की पत्नी अपने पति को अपनी भाभी के साथ में अवैध संबंध बनाते हुये देख ली थी और दोनों पति पत्नी के बीच में विवाद हुआ था। तब आरोपिया ने यह षडयंत्र रची कि मेरे पति से देवरानी के साथ में गलत काम करवा देती हूं, तब मेरी देवरानी मेरे और देवर के बीच के अवैध संबंध के बारे में किसी को नहीं बताएगी और योजनाबद्ध तरिके के साथ में 13 जुलाई 2021 को आरोपिया अपने पति को डराकर अपनी देरानी के साथ में गलत काम करवा दी और स्वयं वहां पर उपस्थित रही। देवरानी और अपने पति को यह बात किसी को नहीं बताने की धमकी दी थी क्योंकि आरोपिया हमेशा अपने देवर के साथ में अवैध संबंध रखना चाहती थी।

सामाजिक बैठक में पड़ी थी मार
आरोपिया की देवरानी अपने मायके जा अपने साथ में घटित बात को अपने मां को बता दी । इस बारे में ग्राम जिगन टोला में सामाजिक बैठक हुआ जहां मृतक ने सही बात को बता दिया और बैठक में आरोपिया और उसके पति को मार पडा था। उसके पति के सिर में चोट लगा था। तब आरोपिया पुन: षडयंत्र बनाई इसी मारपीट से आये चोट का फैयदा उठाया जाये और लोगों को शंका न हो इसलिये अपने पति को ईलाज कराने के सनावल अस्पताल लेकर आई। ईलाज करवाने के बाद में वापस घर ले गई। शराब पिलाई पति के नशे में होने पर नायलोन की पलास्टिक रस्सी से गला घोट कर मार दी। पूरे मामले में आरोपिया ही मास्टरमाईड रही है।