भाजपा के प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी की क्लास : कहा- हम सरकार का पुरजोर विरोध नहीं कर पा रहे; बूथ लेवल पर होगा बड़ा बदलाव

153
ARTICLE TOP AD

छत्तीसगढ़ की प्रदेश भाजपा प्रभारी डी पुरंदेश्वरी स्थानीय नेताओं के परफॉर्मेंस से कुछ खास खुश नहीं हैं। उन्होंने सोमवार को हुई वर्चुअल बैठक में प्रदेश के दिग्गज भाजपा नेताओं से कहा कि हम हम सरकार का पुरजोर विरोध नहीं कर पा रहे हैं। डी पुरंदेश्वरी प्रदेश सह प्रभारी नितिन नवीन के साथ प्रदेश अध्यक्ष और पार्टी के चारों महामंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग कर रहीं थीं।

अंदरूनी दिक्कतों पर भी चर्चा
पुरंदेश्वरी ने इस दौरान इस बात पर जोर दिया कि राज्य में सरकार की विफलताओं के मुद्दे पार्टी नहीं उठा पा रही है। मुद्दे को नहीं उठा पाने को लेकर कई तरह की बातें हो रही हैं। वरिष्ठ नेताओं के बीच आपसी समन्वय और तालमेल की कमी की भी चर्चाएं हैं। इससे यह संदेश जा रहा है कि पार्टी में अंतर्विरोध है। यह पार्टी के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं। पुरंदेश्वरी ने कहा कि कोरोना काल में सरकार की कई विफलताएं हैं। उनको प्रचारित करने में पार्टी के आईटी सेल और सोशल मीडिया सेल का भरपूर उपयोग करें। खूब प्रचारित करें।

पिछली हार की होगी समीक्षा, बूथ लेवल पर होगा बड़ा बदलाव
इससे पहले हुई सरगुजा और बिलासपुर संभाग की बैठक के दौरान वरिष्ठ आदिवासी नेता नंद कुमार साय ने राज्य में पार्टी के विधायक कम होने का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि 15 साल की सरकार 15 सीटों पर कैसे सिमटी इस पर आज तक चर्चा नहीं हुई। इस पर चर्चा की जानी चाहिए। इस पर पुरंदेश्वरी ने कहा कि कोरोना काल के बाद इस पर चर्चा होगी।

संगठन के विस्तार को लेकर भी बैठक में बातें हुईं। इस दौरान निर्णय लिया गया कि राज्य में पार्टी बूथ कमेटियों का फिर से गठन करेगी। हर कमेटी में 25- 25 लोग शामिल किए जाएंगे। इस संबंध में जल्द ही प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय और संगठन महामंत्री पवन साय सभी जिलाध्यक्षों के साथ 25 मई से चर्चा करेंगे। जिलों की कमेटियों को कब तक गठित कर लेना है इसे लेकर दिशा निर्देश भी देंगे।

साभार – दैनिक भास्कर