*पॉलिसी पैरालिसिस की शिकार है सरकार। मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री के अहम के टकराव का भुगतान कर रही है जनता – भाजपा*

1
ARTICLE TOP AD


रायपुर – सरकार कटोरा लेकर घूमना बंद करें इनके पास आपदा प्रबंधन के डीएमएफ फंड के और करुणा से इसके 2000 करोड़ है इसे जनता को कोरोना से बचाव में उपयोग करें ।
* पूरे प्रदेश में सोई कांग्रेस सरकार को जगाने ,उन्हें उनका राजनीतिक धर्म याद दिलाने के लिए यह प्रेस कॉन्फ्रेंस की जा रही है
* सरकार अपनी हठधर्मिता में प्रदेश का नुकसान कर रही है आयुष्मान कार्ड खूबचंद बघेल कार्ड और स्मार्ट कार्ड से अभी 3 दिन बीतने के बाद भी निजी अस्पताल में इलाज प्रारंभ नहीं हुए जिससे गरीब जनता आर्थिक रूप से पीस रही है।
* बैंक बंद होने से कर्मचारियों का उनका वेतन खाते में ट्रांसफर नहीं हो पा रहा है और पैसा होते हुए भी वे इसका उपयोग नहीं कर पा रहे । इसमें सरकार को कोई उपाय  निकालना चाहिए।
* दुर्भाग्य जनक है कि जब प्रदेश को आपकी जरूरत थी तब आप क्रिकेट, असम पर्यटन में मस्त थे और अभी शर्म त्याग कर मेहमान नवाजी में लगे हैं,।
* मानवता को शर्मसार करते हुए शवों का अंतिम संस्कार भी ये सरकार सम्मानजनक ढंग से नहीं हो कर रहा है। सरकार को चाहिए कि बड़े सुनसान भूमि को घेर कर वहां ससम्मान अंतिम संस्कार करें।
* सरकार को बताना चाहिए कि कोरोनावायरस के पहले और दूसरे दौर के बीच उन्होंने कितने बेड, कितने ऑक्सीजन, कितने वेंटिलेटर ,कितने दवाई ,कितने क्वारेन्टीन सेंटर की ओर अस्पतालों की व्यवस्था की है।
* हमने रेल मंत्री, डीआरएम से चर्चा की है।  वह 1500 से 2000 तक के स्वास्थ उपकरण युक्त कोच तुरंत देने को तैयार है। परंतु 3 दिन बीतने के बाद भी मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव कोई इच्छा नहीं दिखा रहे हैं।
* हम लगातार सुझाव दे रहे हैं ,उस पर तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए । विपक्ष के सुझाव को आरोप नहीं समझना चाहिए व बड़े दिल करकर विपक्ष के सुझावो पर त्वरित  कार्य करना चाहिए।
* उन्होंने सुझाव देते हुए कहा कि जिला स्तर पर एक समन्वय समिति बनाएं जो आवश्यकतानुसार तुरंत कार्य करें । इसके क्रियान्वन  हेतु प्रत्येक जिला में 25 करोड़ और रायपुर में 100 करोड  की तत्काल व्यवस्था करनी चाहिए।
* अधिकारियों को आर्थिक अधिकार देकर ब्लॉक लेवल तक नियुक्ति करें जिससे नीचे तक व्यवस्था में सुधार होगा
* कुर्ला में लगे सभी कर्मचारियों का एक करोड़ का बीमा करना चाहिए जिससे भी भविष्य के प्रति निश्चिंत होकर के सेवा दे सकें।
* किसी परिवार के कमाऊ सदस्य की मृत्यु होने पर उस परिवार को सरकार आर्थिक मदद करें
* प्रदेश में उपलब्ध सुविधा युक्त आईआईएम ,आईआईटी , एनआईटी, निजी कॉलेजों के हॉस्टल का अधिग्रहण कर वहां सरकार आइसोलेशन , कोविड सेंटर बनाएं।
* प्रदेश के लिए 1000 वेंटीलेटर का सरकार तुरंत आर्डर करें
* प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी नहीं है परंतु आक्सीजन सिलेंडरों की कमी हो रही है इसे सरकार शीघ्र से शीघ्र पूर्ति करें।
* उन्होंने कहा कि जिस दिन यह सरकार केंद्र पर आरोप लगाना बंद करके अपने काम में ध्यान देगी स्थितियों में सुधार प्रारंभ हो जाएगा।
*प्रेस कॉन्फ्रेंस में जिला प्रभारी खूबचंद पारख, जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी व जिला मीडिया प्रभारी अनुराग अग्रवाल भी उपस्थित थे*