धान खरीदी प्रारम्भ से पूर्व बारदाना जमा न करने वाले राशन दुकानों पर एसडीएम ने की कार्यवाही..

ARTICLE TOP AD

राजस्व अनुभाग सुरजपुर की 10 दुकान निलबिंत, वही 2 दर्जन से अधिक दुकानों को जारी किया गया कारण बताओ नोटिस..

महंगई मिथलेश जायसवाल- खरीफ विपणन वर्ष 2020- 21 में धान खरीदी हेतु पर्याप्त बारदाने की व्यवस्था के लिए शासन के द्वारा पीडीएस दुकानों में खाली हो चुके बारदानों को उपयोग में लाने निर्देशित किया गया है। इसके साथ ही कलेक्टर रणबीर शर्मा के द्वारा विभागीय अमलो को धान खरीदी से पूर्व समस्त तैयारी पूरी करने सख्त निर्देश दिए गए हैं। इसी क्रम में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सूरजपुर पुष्पेंद्र शर्मा के द्वारा धान खरीदी के संबंध में बैठक लेकर खाद्य निरीक्षकों को पीडीएस बारदाने समितियों में जमा कराने निर्देशित किया गया था साथ ही ऐसी पीडीएस दुकान जिनके द्वारा बारदाना समय पर जमा नहीं किया जाता है उनके विरुद्ध प्रकरण तैयार कर प्रस्तुत करने निर्देश दिया गया था। निर्देशों के परिपालन में खाद्य निरीक्षक सूरजपुर नीतीश कुमार एवं रामानुजनगर श्वेता अग्रवाल के द्वारा बारदाने के संबंध में आवश्यक जांच हेतु संबंधित तहसीलदार सुरजपुर नंदजी पांडेय एवं रामानुजनगर राधेश्याम तिर्की, पिलखा तहसीलदार अमीत केरकेट्टा के नेतृत्व में पीडीएस दुकानों का निरीक्षण किया गया जिसमें बारदाना जमा नहीं करने वाले दुकानों के विरुद्ध प्रकरण तैयार कर एसडीएम सूरजपुर के समक्ष प्रस्तुत किया गया। प्राप्त प्रतिवेदन पर आवश्यक जांच करते हुए एसडीएम श्री पुष्पेंद्र शर्मा के द्वारा रामानुजनगर की चार दुकान, प्रेमनगर की तीन एवं सूरजपुर की तीन पीडीएस दुकान को निलंबित कर दिया है इसके अतिरिक्त रामानुजनगर की दस दुकानों, प्रेमनगर की दस दुकान एवं सूरजपुर की पन्द्रह पीडीएस दुकानों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

पीडीएस दुकानों के जांच के दौरान खाद्यान्न वितरण में अनियमितता पाए जाने पर रामानुजनगर की तेलसरा दुकान को निरस्त कर दिया गया है, वही कल्याणपुर के संचालक के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराई गई है। इसके साथ ही सूरजपुर की नेवरा पीडीएस दुकान को निरस्त किया गया है तथा गिरवरगंज पीडीएस दुकान को निलंबित कर दिया गया है।