हल्का नंबर 36 के पटवारी के मुख्यालय में नहीं रहने से ग्रामीण परेशान..

ARTICLE TOP AD

रामानुजगंज(विकाश केशरी)- एक ओर कलेक्टर श्याम धावडे के द्वारा राजस्व विभाग के अधिकारी कर्मचारियों को गिरदावरी के लिए सख्त निर्देश जारी किए गए हैं वही रामानुजगंज से सटे पटवारी हल्का नंबर 36 में पटवारी के मुख्यालय में नहीं रहने से गिरदावरी योजना पर संशय स्थापित हो रहा है। जब पटवारी मुख्यालय में नहीं रहेंगे तो कैसे गिरदावरी पूरी होगी।

                               गौरतलब है कि कलेक्टर श्याम धावडे के द्वारा बलरामपुर रामानुजगंज जिले के समस्त राजस्व अधिकारियों को गिरदावरी योजना को गंभीरता पूर्वक पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं वहीं रामानुजगंज से सटे हल्का नंबर 36 के पटवारी के मुख्यालय में नहीं रहने से ग्रामीण परेशान है वही उनका कार्य समय पर नहीं हो पा रहा है। पटवारियों के मुख्यालय में रहने के लिए समय-समय पर जिला प्रशासन के द्वारा निर्देश जारी होते रहते हैं परंतु उसके बाद भी पटवारी के मुख्यालय में नहीं रहने से कार्य जहां प्रभावित होते ही हैं वही ग्रामीणों को भी परेशानी होती है।

एक एक पटवारी को दो दो हल्का- पटवारियों के कमी के कारण एक एक पटवारियों को दो-दो हल्का दिया गया है ऐसे में उनका मुख्यालय में रहना  ज्यादा जरूरी हो जाता है एक ही हल्का में इतना काम होता है कि एक पटवारी को करना मुश्किल होता है ऐसे में दो-दो हल्का मिलने पर काम का बोझ ज्यादा बढ़ जाता है ऐसे में मुख्यालय में नहीं रहने से ग्रामीणों पेरेशानी   होती है।

कैसे पूरा होगा गिरदावरी- अगर पटवारी मुख्यालय में नहीं रहेंगे तो गिरदावरी कैसे पूरा होगा इसमें भी संशय स्थापित हो रहा है। कहीं सिर्फ कागजों में ही गिरदावरी तैयार ना हो जाए ऐसी भी संभावना जताई जा रही है।

इस संबंध में एसडीएम अभिषेक गुप्ता ने कहा कि पटवारी को दो हल्का दिया गया है मुख्यालय में निवास कर रहे हैं या नहीं इसकी जानकारी लेता हूं।