अधिवक्ता डीके सोनी की पहल पर वन विभाग की 30 एकड़ भूमि का जब्ज़ा हटा

ARTICLE TOP AD

अनिल सोनी
बलरामपुर।
अंबिकापुर अधिवक्ता डी.के. ने प्रेसनोट जारी कर बताया कि वन परीक्षेत्र अंबिकापुर के अंतर्गत ग्राम पंचायत खलीबा में स्थित वन भूमि सालों से रिक्त पड़ा है। कई वर्षों से पौधारोपण की मांग की जा रही है।

पौधारोपण काम एवं उसकी सुरक्षा की व्यवस्था वन विभाग द्वारा नहीं किया गया है। जिसके कारण ग्राम खलीबा के दर्ज़नो ग्रामीणों के वन भूमि में अवैध कब्जा किया जा रहा है। कई बार कब्जा रोकने के संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों को पूर्व में मौखिक निवेदन किया गया है लेकिन आज तक कोई भी कार्यवाही अवैध कब्जा करने वालों के विरुद्ध नहीं किया जा रहा है बल्कि वन विभाग के दरोगा, सिपाही के द्वारा खलीबा बीट के अंतर्गत स्थित वन भूमि को पैसा लेकर कब्जा दिया जा रहा था। अधिवक्ता डी.के. सोनी ने पंकज कमल वनमण्डलाधिकारी को शिकायत किया। शिकायत पर डीएफओ ने संज्ञान लेकर वन अमला को खलीब बीट में भेज कर कारवाही की गई। अवैध किए गए वन भूमि के कब्जे को हटवाया गया। वन भूमि पर कब्जा किए प्रदीप यादव ,केदार यादव, तीरथ यादव,महेंद्र यादव, गिरवर यादव,रामलोचन यादव,लक्ष्मण यादव, प्रेम सागर यादव, नागेश्वर यादव, गीता प्रसाद, राजकुमार, राजा ,उमेश यादव,बालरूप यादव एवं पितांबर यादव के द्वारा के विरूद्ध प्रकरण भी बनाया जा रहा है। इसके अलावा अभी वन भूमि पर हो रहे अवैध कब्जे को हटाने की कार्यवाही लगातार चलेगी उक्त कारवाही में एसडीओ फारेस्ट, रेंजर राकेश रावत एवं वन परिक्षेत्र के वन अमला उपस्थित थे। करीब  25-30  से एकड़ जमीन में हुए अवैध कब्जे को हटाने की कार्यवाही हो रही है। वर्तमान में शासन की कई योजनाएं नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी योजना चल रहा है जिसमें शासन की भूमि की आवश्यकता होती है तथा गौठान बनाने एवं मवेशी चारागाह के लिए भी भूमि की जरूरत पड़ती है इन सब स्थिति को देखते हुए उपरोक्त वर्णित व्यक्तियों के द्वारा किए गए अवैध कब्जे को हटाकर शासन की योजनाओं के लिए भूमि को संरक्षित किया जा रहा है।