IPL कराने के आसार बढ़े, 2022 तक टल सकता है T20 वर्ल्ड कप

ARTICLE TOP AD

ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप पर कोविड-19 महामारी के कारण संशय के बादल मंडरा रहे हैं. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) इस टूर्नामेंट को 2022 तक टालने पर विचार कर सकती है. आईसीसी के बोर्ड सदस्यों की 28 मई को बैठक होने वाली है. बोर्ड के एक सदस्य ने कहा कि आईसीसी टूर्नामेंट को टालने पर विचार कर सकती है. बोर्ड के इस सदस्य के मुताबिक क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) भी इस प्रस्ताव का समर्थन कर सकता है. ऐसे में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) कराने के आसार बढ़ गए हैं.

आईसीसी की इस प्रतियोगिता का आयोजन 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक प्रस्तावित है. आईसीसी बोर्ड की बैठक से पहले क्रिकेट समिति की बैठक है, जिसमें गेंद पर पसीना और लार लगाने सहित कई परिस्थितियों पर चर्चा की जाएगी. उम्मीद है कि क्रिस टेटली की अध्यक्षता वाली आईसीसी की प्रतियोगिता समिति कई विकल्प पेश करेगी.

टी-20 वर्ल्ड कप स्थगित करने पर होगी चर्चा

बोर्ड के सदस्य ने पीटीआई को गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘हम आईसीसी की प्रतियोगिता समिति से तीन विकल्पों की उम्मीद कर रहे हैं. पहला विकल्प 14 दिन के पृथकवास (आइसोलेशन) के साथ टी 20 विश्व कप का आयोजन हो, जिसमें दर्शकों की अनुमति है. इसमें दूसरा विकल्प है कि मैच खाली स्टेडियम में हों. तीसरा विकल्प है कि टूर्नामेंट को 2022 के लिए स्थगित कर दिया जाए.’

बोर्ड के इस सदस्य ने कहा, ‘आईसीसी को थोड़ी वित्तीय परेशानी का सामना करना पड़ सकता है, लेकिन यह एक अल्पकालिक समस्या है. अगर टूर्नामेंट 2022 में होता है, तो उसे कोई खास घाटा नहीं होगा.’ टी20 वर्ल्ड कप टलने का मतलब यह भी होगा कि चकाचौंध से भरे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आयोजन की संभावना बनेगी. अगर तब तक COVID-19 महामारी थम जाती है, तो यह टी-20 टूर्नामेंट कराया जा सकता है, फिलहाल इसे अनिश्चित काल के लिए निलंबित रखा गया है.

IPL के बाद हो सकता है ऑस्ट्रेलिया दौरा

भारतीय टीम आईपीएल के बाद ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर जा सकती है. उन्होंने कहा कि अगर टूर्नामेंट अपने निर्धारित समय पर होता है तो बड़ी संख्या में लोगों को आइसोलेशन में रहना होगा. इसमें 16 टीमों के खिलाड़ी और अधिकारियों के अलावा टेलीविजन सदस्य और अन्य जरूरी स्टाफ शामिल है. यह काफी जटिल और महंगा साबित होगा.

यह सीरीज क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के वित्तीय स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है. उन्होंने कहा, ‘अगर टी20 वर्ल्ड कप को 2022 तक टाला जाता है तो क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया बहुत दुखी नहीं होगा. आईसीसी सदस्यों से बना है. यदि सदस्य यह तय करते हैं कि द्विपक्षीय सीरीज अधिक महत्वपूर्ण है, तो आप इसे खारिज नहीं कर सकते हैं.

बोर्ड की बैठक में अध्यक्ष शशांक मनोहर के लिए दो महीने के विस्तार पर भी चर्चा होगी, लेकिन मुख्य रूप से ध्यान टी 20 वर्ल्ड कप पर फैसला करने पर होगा. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) और उनके मौजूदा और पूर्व शीर्ष खिलाड़ी भारत के साथ टेस्ट सीरीज करने पर जोर दे रहे हैं, जिसे नवंबर-दिसंबर में खेला जाना है.